Category: कृष्ण सैनी

चक्रव्यूह में फंसी बेटी

 (1)बर्फीली सर्दी में नवजात बेटी को,जो छोड़ देते झाड़ियों में निराधार।वे बेटी को अभिशाप समझते,ऐसे पत्थर दिलों को धिक्कार।(2)जो कोख में ही कत्ल करके भ्रूण,मोटी कमाई का कर रहे …

पद्मश्री नारायण दास जी को मेरी श्रदांजलि

प्रेम पूरित वो हाथ,और प्यारे से वो चरण।आप चले प्रभु छोड़,अब कौन देगा हमे शरण।आप थे माता-पिता,सबकुछ आपमे दिखता था।सब का भाग्य हे नारायण,तू अपने हाथ से लिखता था।छह …

प्रीत

लिखबो पढ़बो आयो,बैठ्यो थारे संग।भैजा रै सगळे भेदा,और निकळगी जंग।लेखणी नै माण मिल्यो,स्वम मिल्यो छै प्रीत।कृष्ण ळिख अर्चणा करै,गाता रहो थै गीत।✍कृष्ण सैनी(विराटनगर)🙏🙏🙏🙏🙏🙏मेरी वेबसाइट Оформить и получить экспресс займ …

कमबख्त दिल

आज इक बार फिर ख्याब में,उनका दीदार हो गया।कमबख्त बेजुबाँ दिल को,फिर से प्यार हो गया।वो दूर बैठी है आज,पर दिल मचलता है।दर्द बढ़ता है जब,ख्वाब ये आता है।उनकी …

दीपावली

रावण मार के घर को आये,खुशी हुई बड़ी भारी….दीप जलाके मने दीवाली,फैल रही उजियाली…मात कैकई वर मांगा था,राम जाये वन को…सुन माँ की इच्छा खातिर,छोड़ दिया था घर को…आगे …

सरकार राजस्थान की

सरकार राजस्थान की,गजब ढो रही है.ले जाने के गर्त में,वो बीज बो रही है.महारानी ने फैलाया अब,मक्कारी का जाल है.रात -दिन उड़ाती वो,धन दौलत और माल है.राजस्थान का ना …

लव-यू लव-यू बोल के वो दिल ले गई…

लव-यू लव-यू बोल के वो दिल ले गई…-2एक ठंडे दिल को वो आग दे गई…-2क्या करू मे क्या करू जान मेरी जाती है…उस लडकी की याद मुझे तडपाती है…सोच …

प्रेम-रंग………………कृष्ण सैनी

जुल्फे जब उसकी उड़ती काली…मदपुरित मदिरा सी भरती हरीयाली…आलिंगन और स्पर्श अलौकिक…तुच्छ न्यून और सुख भौतिक…ज्ञान. धर्म, मर्म, वह सब…दैनिक द्वंद मिटाती जैसे रब …शांति भाव दिखाती अधर-लाली…जुल्फे जब …

प्यार दिखा के गौरी तुमने

प्यार दिखा के गौरी तुमनेशमशीर मेरे चुबो दिया…सबकुछ छोड-छाड के संग मेमै तो तेरे आया थादेगी ऐसी दगा तु मुझकोकभी नही भरमाया थाजिस कुए से प्यास बुझाईउसी मे तुमने …

प्यार……… कृष्ण सैनी

ना हो शब्दो से बयाँ येना ही कोई परिभाषा हर किसी के मन मे हैदिलेस्पर्श की अभिलाषाकाम है इसकादो रूहो को जोड़नाआसाँ नही इसेइक बार मिलाके तोडनाप्यार,इक भाव हैकडी …

विरह गीत

वो तेरी हर मुलाकातेअब मुझे रूलाती हैवो तेरी हर बातेअब मुझे सताती हैसोचता है दिल मेराछोडु ये ज़िंदगीपर माँ-बाप की वो मेहनतमुझे याद आती हैवो तेरी हर मुलाकातेअब मुझे …

भज ने मे उनको आये मजा

भज ने मे उनको आये मजा-2बडा ये प्यारा है,मेरे श्याम का नामबडा ये निराला है,मेरे श्याम का नाम(1)देख के बाबा के दर को, लुले-लंगडे भी बजाते ताली कृपा है …

यह रचना “बेटियाँ” प्रतियोगिता में सम्मलित की गयी है।

“माँ मैने क्या कसूर किया” नामक शीर्षकसे प्रकाशित मेरे द्वारा रचित रचनाhttp://sahityapedia.com प्रतियोगितामें शामिल है |अतः आपसे अनुरोध है |यदि आपको मेरी रचना पसंद आये तोअपना अमूल्य वोट देने …

कलयुग के बाबा श्याम

कलयुग मे कृष्ण अवतारलेके आये थे बाबा श्यामपुजे जायेंगे कलयुग मेलिया था कृष्ण से वरदानहारे का मै बनुंगा सहारामाँ को दिया था इसने मानमाँ मौरवी को देके वादायुद्ध मे …

कॉलेज कि वो लडकी

कॉलेज की वो लडकीअब भी यादो के समंदर मेयाद आती हैथोडा सा हंसाती हैथोडा सा रूलाती हैबीत गये कई अरसे देखे हुए उसेपर फ़िर भी उसकी यादन भुलाई जाती …

श्रवण कुमार

ऋषि शांतनु का बेटा वहनाम श्रवण कुमार थामाँ-बाप की खातिर जिसने कर दिया जीवन कुर्बान थादृष्टिहीन मात-पिता थे उसकेवही एक सहारा थामाता-पिता की आज्ञा को वोअपना धर्म समझता थाइक …

आज हम नववर्ष बनायेंगे

आज हम नववर्ष मनायेंगेखूब पार्टी मे पैसा उडायेंगेदारू मांस मछली और अंडाजी भर कर खायेंगेभारतीय संस्कृति कोआज रखेल बनायेंगेआज हम नववर्ष मनायेंगेमाँ बोली बेटा दूध ले आआज बेटी मेरी …

खुदा के आगे भला किसकी चली है

खुदा के आगे भला किसकी चली हैजो वो करता है जग मेवो हर चीज भली हैगेहू के साथ अगर खरपतवार न बनातातो बेचारा जानवर क्या गेहू खाताखुदा के आगे …

भगवान की माया

भगवान की माया अजब निरालीउसके हाथ है जीवन तालीखुंटी हार निंगलती देखीअबुझ है तेरी कृपालेखीकरता है तु बडा कमालपल मे रंक को बनादे राजाराजा को कर दे कंगाल भगवान …

जग मे मिलेगा बहुत ही मान

अरे नादान तु क्यो हो रहा है हैवानतुझे क्या चाहियेअब तो बन तु इंसानपाप-पुण्य का ज्ञान नही तुझेमानुष होकर हुआ बेईमानजीवन व्यर्थ गवाया तूनेकभी न जपा मुख से भगवानअभी …