Tag: शेर

शेर – डी के निवातिया

ख्याल *** बड़ी शिद्दत से मैं  ये काम  कर रहा हूँ ,जीने की चाहत में हर रोज़ मर रहा हूँ !! Оформить и получить экспресс займ на карту без …

महबूबा -ऐ-ज़िन्दगी – डी के निवातिया

महबूबा -ऐ-ज़िन्दगी *** तुझे लिख पाना मेरे बस में कहाँ महबूबा -ऐ-ज़िन्दगी तू सागर में घुली स्याही, मैं तिनके सी तैरती कलम !! ! स्वरचित : डी के निवातिया …

कैसे कह दूँ – डी के निवातिया

कैसे कह दूँ*** *** ***कैसे कह दूँ उसको मै बेवफा,नब्ज चलती है हर पल मेरी उसके नाम पर !कभी मुलाकात नही हुई तो क्या,मेरे दिल में महफिले सजती है …

सेज़ है सज़ायें- डी के निवातिया

सेज़ है सज़ायें-***यह लो वो सज़ गए फिर से पहन सेहरा भी,अब तो कोई जाकर उन्हें हमारी याद दिलायें !हम ख़ाक में मिल गए उनके एक इशारे पेऔर वो …

अपना मिलन होगा- शिशिर मधुकर

हिज्र की रात गुजरेगी फिर से अपना मिलन होगा इस बाग ए वफा में फिर मुहब्बत का चलन होगा शिशिर मधुकर Оформить и получить экспресс займ на карту без …

मेरा पुराना घऱ

“जब कभी ज़हन में गाँव का मंज़र आया।याद  मुझको  मेरा  पुराना  घऱ  आया ।।वो  पड़ोसी,  अपनापन,  नीम की छांव ।गांव  छोड़ा  क्यूँ  मैं  इस  शहर  आया ।।”(विवेक बिजनोरी) Оформить …

चिराग-ऐ-मुहब्बत — डी के निवातिया

चिराग-ऐ-मुहब्बत *** तेरी तूफ़ान-ऐ-नफरत भला उसे क्या बर्बाद करे    चिराग-ऐ-मुहब्बत जिसने आँधियो में जलाये हो !! !!!—-:: डी के निवातिया  ::— Оформить и получить экспресс займ на карту …

लग गया है…………. रोग सजना |गीत| “मनोज कुमार”

लग गया है प्यार का ये रोग सजना जाता नही कैसा है ये रोग सजनालाइलाज बीमारी है तड़पूँ सजना लग गया है तुमसे ये दिल सजना लग गया है………………………… …

ग़रीब की बेटी (विवेक बिजनोरी)

 “मुझको इस काबिल बनाया, खुद भूखे प्यासे रहकर,मेरे बाबा ने मुझको समझा है सबसे बेहतर।मैं ग़रीब की बेटी अपने बाबा का सम्मान करूँ,माफ़ करना हे ईश्वर तुझसे पहले जो …

जलजला ऐ मोहोब्बत

“जलजला ऐ मोहोब्बत उड़ा ले गया मुझे,जब संभला तब देखा कुछ टूट गया था।रिश्तो को निभाना कब न चाहा था मैंने,फिर भी एक रिश्ता था जो कहीं छूट गया …

मुफ़लिसी (विवेक बिजनोरी)

“गुलिस्तां -ऐ-जिंदगी में खुशबू सा बिखर के आया हूँ,हर एक तपिश पर थोड़ा निखर के आया हूँइतना आसां कहाँ होगा मेरी हस्ती मिटा देना,मैं मुफ़लिसी के उस दौर से …

वो क्या बोले (विवेक बिजनोरी)

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по …

नया साल — डी. के. निवातिया

खड़ा हूँ दहलीज़ पर फिर एक नये साल की पोटली थामे, जिंदगी में हुए बर्बाद पलों की !!!!D. K [email protected]@@ Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа …

नशा क्या होता है — डी के निवातिया

हमने न शौक फरमाया था जिन्दगी में कभी मयकदे जाने का एक बार तेरी आँखों से पी तो समझ आया नशा क्या होता है !!   Оформить и получить …

कुछ तो बाकी है (विवेक बिजनोरी)

“कुछ तो बाकी है मुझमे, जो हर ज़गाह ढूँडता हूँ खुद को खुद से मिलाने की वज़ाह ढूँडता हूँ….”(विवेक बिजनोरी) Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа …

दवाखाने में क्यूँ छोड़ा जरा चलते तो मैखाने

“बुरा क्या था अगर इस दर्द के मै साथ में दिलबर…  तुम्हारी याद भी चलकर मिटा लेता अगर थोड़ी…   दवाखाने में क्यूँ छोड़ा जरा चलते तो मैखाने…  दवा के …

हिन्दू मुसलमान

पहले अच्छे इंसान बनो फिर हिन्दू या मुसलमान बनो .. धर्म के नाम पर इंसानियत छोड़कर शैतान न बनो … इंसानियत सीखता है हर धर्म अपने धर्म को मानने …