Tag: poem by piyush raj

मेरे हर दर्द की ,तू ही एक दवा है…(Part-1)–पियुष राज

मेरे हर दर्द की ,तू ही एक दवा है…Part-1चाहे क्यों ना दे ये दुनियाकितने भी जख्म मुझेमुझसे जुदा नहीँ कर सकताकोई भी तुझेये छोटे-मोटे जख्म तोहमारे मोहब्बत के गवाह …