Tag: hitsahitya

हमने तो कोरोना ही पेल दिया (Humne to Corona ko hi pel diya)

हमने तो कोरोना ही पेल दिया   माना थोड़ी संकट की घडी आयी है ,कही चिंता तो कहीं तन्हाई है पर हमने तो खेल ऐसा खेल दिया हमने तो कोरोना को ही …

ये इश्क़ है (Ye ishq hai)

ये इश्क़ हैतू घायल हो या मुर्दा ये तुझे जगा देगाये इश्क़ है ,तुझे क्या तेरी रूह तक को मिटा देगाद्वारा – मोहित सिंह चाहर ‘हित’ Оформить и получить …

मैं ऐसे बना

मैं ऐसे बनापहाड़ को तोड़करनदी को मोड़करतालो को खोलकरज़हर खून में घोलकरफिर लगी जो आगउससे एक फूल खिलाफूल से था में बनाउस हिरन के पीछे भागा जब भागीनहीं बचा …

एक जवान होता है ( पर दोबारा गौर )

एक जवान होता है ( पर दोबारा गौर )आ रखी हो कहीं बाढ़या हिमाचल के ऊँचे पहाड़मणिपुर के घने जंगलो की रातया फिर गुजार रहा हो कोईकुछ दिन जाके …

Yaha Asamaya ki rati hai (यह असमय की रति है)

यह असमय की रति हैतुम्हारे बीच जो खिंचाव है,वह सिर्फ माया हैभला जो चीज है ही नहींउसे भी किसी ने पाया हैखिंचाव असमय की रति हैजो खिंच जाए उसकीमारी …