Tag: स्वतंत्रता का अधिकार

बेटी लेकर क्या करोगे

बेटी लेकर तुम करोगे क्या जन्म देकर करोगे क्या रौब तो रहेगा बेटे का ही कुल को तुम्हारे समेटगा ही बचपन से झुकना उसे सिखाओगे क्या पुरुष प्रधान दिखाओगे …

कविता नहीं है यह

कविता नहीं है यह मिठी -मिठी शब्दों से बना गीत भी नहीं तुम्हारे होठों पर मुश्कान लानेवाली हास्य कहानी भी नहीं है यह यह गरीबों के खाली पेट की …

चप्पल को बीबी का प्यार कहिये

१३/०६/९५ सहूलियत क्या है बिगाड़ कहिये। जेब खर्च क्या है पगार कहिये। बाप हो गये बुरा क्या बेटे। स्वतन्त्र्ता का अधिकार कहिये। जुनून औरत में मर्द से बढ़। कि …