Tag: Hindi Poem by Poet Piyush Raj

होली से पहले पापा क्यों घर आए है…? (पीयूष राज ‘पारस’)

*पुलवामा हमले के बाद लिखी मेरी नई कविता*_”एक सात साल का बच्चा अपनी माँ से पूछता है जब उसके पापा होली से पहले तिरंगे में लिपटकर घर आते है …

राख…(पियुष राज)

राखधन दौलत के अभिमान मेंइंसान हो जाता है मगरूरअपने आप को बड़ा समझकरअपनो से ही हो जाता है दूरमरने के बाद धन-दौलतसब कुछ हो जाता है खाकअंत मे जिंदगी …