Tag: ग़ज़ल/नज़्म

तुम याद आये….सी. एम्. शर्मा (बब्बू)…

बिछड़े हो जबसे चैन ना आये, तुम याद आये…अब कुछ ना भाये, तुम याद आये….यादों के कोहरे में, उलझा हूँ मैं, कुछ भी…नज़र ना आये, तुम याद आये….आँखों में …