Tag: समंदर की तरह

समंदर की तरह – डी के निवातिया

समंदर की तरह***पास होकर भी दूर कितने हम धरती अम्बर की तरहसाथ है मगर वर्ष की दुरी है जनवरी-दिसंबर की तरहन मिलते है कभी न बिछुड़ने का कोई बहाना …