Tag: (वर्ण पिरामिड)

संकल्प – डी के निवातिया

विधा – “वर्ण पिरामिड”विषय : संकल्प२९/०५/२०१९!हैसत्यविकल्पपरिश्रमदृढ संकल्पनिश्चित सम्भवविजय परिकल्प !!*होपथशश्क्तश्रम अल्पकर संकल्पसंभव अकल्पमात्र कर्म विकल्प !!!स्वरचित : डी के निवातिया Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа …

माटी…..वर्ण पिरामिड…..सी.एम्.शर्मा (बब्बू)….

हैमाटीसंस्कारअभिमानआत्म सम्मानचिर शान्ति शैयागोद में लेती मैया…..सी.एम्.शर्मा (बब्बू)…. Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных …

मौन…..सी.एम्. शर्मा (बब्बू)…

तुममौन होबोलो कुछजानते नहीं तुमतुम्हारे न बोलने सेरिश्ता टूट रहा है हमारादरार पड़ रही है दिलों मेंभगवान् के लिए कुछ बोलोमेरी सुनो अपनी कहो, कभी तो \/ एकआत्माचीखती हैपुकारती …

चलो मेरे संग…सी.एम्. शर्मा (बब्बू)…

स्पर्शआईना हैअंतर्मन काप्यार, घृणा काअपने होने न होने काज़िन्दगी में जीवन बाकी हैमौत अभी जीती नहीं है हमसेआह्वान है संभलने संभालने का\/स्पर्शमाँ काबच्चे कोप्राण संचारआभास जीवन कासृष्टि साकार होने …

भोले भण्डारी — डी के निवातिया

आ जायेंगे भोले भण्डारी हेनाथहमारेदर्शन देकाज सँवारेतुम ही खिवैयाजीवन की नैया केआकर पार उतारेतन मन सब अर्पणहम खुद को तुमपे हारे ।।येमाससावनअलबेलाशिव भक्तो कालगता है मेलाझूमता गाता चलेकांवड़ियों का …

मैं हिंदी भाषा…………..वर्ण पिरामिड ……….(डी के निवातियाँ )

मैं हिंदी भाषा हूँ दुनिया में मेरी अपनी एक पहचान भारतीय होने का मुझको सदैव गर्व हूँ हिंदुस्तान की मैं जान ।। हाँ कुछ व्यक्ति इस शंका में रहते …

आजादी वर्ण पिरामिड …..

ऐ मेरे वतन आजादी के पावन पर्व पर मेरा शत शत नमन जिन वीरो ने आजादी के लिये प्राणों की आहुति उन्हें भी कोटि कोटि नमन ।। ये पर्व …

मैं और तुम …….(वर्ण पिरामिड)

मैं और तुम थे उस हंसी रात चांदनी के साये में गुम सोया था सारा जहां चिर निंद्रा की आगोश जैसे चढ़ा काल की भेंट सारा का सारा शहर …