Tag: दस्तक

दस्तक – डी के निवातिया

दस्तक!मेरे दिल के दरवाज़े दस्तक देकर, छुप जानातेरी आवाज़ सुनकर इन साँसों का रुक जानायूँ गुजरते है जिंदगी के पल तेरी ही इबादत मेंतेरा नाम आते ही सदके सिर …

दस्तक – मेरी शायरी……. बस तेरे लिए

दस्तकसीने में उठा है इक पुराना दर्द आज फिर से …………………लगता है के दिल के दरवाजे पे मोहब्बत ने फिर से दस्तक दी है ……………….. शायर : सर्वजीत सिंह …