Tag: तुम न समझे

तुम न समझे – डी के निवातिया

  तुम न समझे *** बहुत बुझाई पहेलियाँ, मगर कोई सवाल तुम न समझे !समझ गई दुनिया सारी कितने हुए बवाल तुम न समझे !! टूट गए हम टूटकर …