Author: Vaibhav kanaujia

कोरोना- वोरोना

आज कैसा ये वक्त आया हैजहां देखो कोरोना छाया हैबंद सब खिड़की दरवाज़े हैंना कोई दिखते बाहर हैं।ना जाने कैसा ये वक्त आया हैएक डर मन के अंदर छाया …