Author: Tulsi kumar

नेताजी (व्यंग्य)

नेताजी कहते हैं हेलीकॉप्टर पर घुमते हैं,आपकी मेहरबानी है।मतदान में जिताना आपकी तरफदारी है,वोट दो हमको कराएंगे ,ऐसा काम रोड बनाएंगे कागज पर,लोगे हमेशा नाम।हम हैं नेता ऐसे,जनता के …

बेटी का सवाल -तुलसी कुमार

समझो ना पराया हमें,हम भी तो अपने हैं।यूँ ना हमसे मुँह मोड़ो,हमारे भी कुछ सपने हैं।क्या इतना बड़ा गुनाह है,इस दुनिया मे हमारा  आना,कुछ हमारे भी सवाल हैं ,जरा …

किसान और सोना

सोना तप कर निखरता है,किसान तप कर मरता है।सोने की पहचान बहुत है,किसानों के अरमान बहुत है, सोना अमीरों की है शान। भूखे मरते है किसान,किसान नहीं रहेंगे तो,अन्न …