Author: shrija kumari

पिता की व्यथा

अरमानों से सजी पालकी में बिठाना है तुझे, घर अपने पिया के पहुँचाना है तुझे।तुम्हारे जन्म से ही संजोये रखे हैं कई ख़्वाब, इन्ही ख्वाबों से सजाना है तुझे।इस …

सच्चे साथी

दूर रहिये ऐसे लोगों से, जो चाशनी सी जुबान रखते हैं,सुना है जरुरत पड़ने पर वही लोग राह बदलते हैं।कड़वी बातें बोलकर भी जो नीयत साफ़ रखते हैं,वही सच्चा …

मुखौटा

सब कहते हैं ख़ुशी होती है तुम्हारी मुस्कुुराहट को देखकर,दिल उत्साहित होता है चेहरे से झलकती खुशियों की आहट को देखकर,हमने ना कहा उनसे, वक़्त के तजुर्बे को दिल …

कन्यादान

नाजों से पाला है उसको,पलकों पर उसे बिठा रखना.आपकी बहु आपका सम्मान,हमारा छोटा सा बलिदान समझना.लड़केवाले हो आप नाक ऊँची तो होगी ही अकड़ हो ना हो शान अनोखी …

सिक्किम की सैर

गौर से देखी मैंने सिक्किम की ख़ूबसूरती हर पर्यटक का मन मोह लेने वाली मनमोहक आकृति चाहे हो छोटी नदी धाराओं का उनकी जीवन धारा तीस्ता से मिलन या …

दुल्हन

हूँ दिल में हज़ारों अरमान लिएआँखों में प्यार का सम्मान लिएलबों पे खुशि का पैगाम लिएदिल में उलझनों का आसमान लिएमै हूँ दुल्हन….है एक तरफ नयी दुनिया में कदम …

दस्तूर

राहें चलें तो पत्थरों से मजबूर हैंउपरवाला अपने रुतबे पे मगरूर हैलोगों के दिलों में थोड़ी चाहत तो जरुर हैलेकिन यहाँ फुलों के बदले काँटों का दस्तूर है….मंजिलों तक …

इंसानियत…… The Ultimate Fight

न जाने कितनी चोटें खायी मैंनेन जाने कितने स्वांग रचवाए मैंने…… कभि ठेकेदारों के गुट ने मेरा बलात्कार कियाकभि नेताओं ने मेरा रूह तार-तार किया…. कभि जाहिलों ने मुझपे वार कियाकभि …

कसक तुम्हारे प्यार की

संग संग यूँ चलूँ तेरे बन जाऊं तुम्हारी मै परछाई प्रीत तुम्ही से हर गीत तुम्ही से तुम ही हो मेरी ज़िन्दगी के सौदाई हाथ मेरा यूँही थामे रखना …

जन्नत-ए-कश्मीर

खूबसूरती तो तुम्हारे हर नज़ारे में है चमक उठने की चाहत एक एक सितारे में है खुदा ने जो नूर बक्षा है तुम्हे करिश्मा तो उनके हाथों के कारगुजारे …