Author: Sahab K Yadav

#उठा_न_पाते_पत्थर_तुम 

#उठा_न_पाते_पत्थर_तुम   —————————- काश न होता हाथ तुम्हारे । उठा न पाते पत्थर तुम ।। काश न होता इतनी नफरत , उठा न पाते पत्थर तुम। नफ़रत की आग में …

 एक कदम घर की ओर  ———————-

 एक कदम घर की ओर  ———————- कदम बढ़ा रहा था , जाने क्यूं ओ घर की ओर । था पता उसे, नहीं है कुछ खाने को वहां, फिर भी …

 जिसने देश का मान बढ़ाया

 जिसने देश का मान बढ़ाया            ———————————–  जिसने देश का मान बढ़ायाजीता मेडल नाम कमाया । सुन ली गर्जन वीर शेरनी की ।क्रोधित शेरनी ने …

 कोरोना का कहर  —————–

 कोरोना का कहर  —————– कैसा है ये महामारी का डर ।कैसा हैं ये कोरोना का डर ।। थम सी गई है जिंदगी सबकी ।रुक सी गई है जिंदगी सबकी …