Author: Neeraj Kumar Dwivedi

किसान की व्यथा

समस्या एक है बहुत ही उत्कट,आज भी हिन्दुस्तान कीआवाज नहीं है कोई सुनता,लाचारगरीबकिसान कीसमस्या एक है …. काम कोई पड़ जाए तो फिर, दौड़े आफिस आफिससाहब साहब कहता भागे, …

किसान की व्यथा

किसान की व्यथा समस्या एक है बहुत ही उत्कट,आज भी हिन्दुस्तान कीआवाज नहीं है कोई सुनता,लाचारगरीबकिसान कीसमस्या एक है …. काम कोई पड़ जाए तो फिर, दौड़े आफिस आफिससाहब …

माँ

माँमाँ शब्द नहीं संसार है, अमिट अमिय की धार है माँ होती ऐसी क्षीरसागर, जिसमें ममता प्यार दुलार हैमाँ शब्द नहीं ……. माँ जन्मदात्री अधिष्ठात्री, सुखमय सुखदात्री माँ ही …