Author: कपिल जैन

अभिनन्दन

अभिनन्दन अभिनन्दन है, अभिनन्दन, अभिनन्दन है, अभिनन्दन। साहस की इस बेला पर करते, हम सब जन मिलकर वंदन। ।सोभाग्य अपना है ये कि, आप हमारे बीच पधारे नहीं बता …

रेसिपी— “जिन्दगी”

दो चम्मच बारीक कटी हुई मुस्कुराहट मे, हल्की सी मद्धिम आंच पर कुछ दो चार दाने यादों के छिड़क । अंश्कों के तेल मे छौका लगा उम्मीदों का… बस …

प्रेम दिवस

लो फिर आया ये प्रेम दिवस प्रदर्शन का अनोखा दिवस सच अगर प्रेम दिवस है ये, तो प्रदर्शन की क्या आवश्यकता अंतर्मन की नैससर्गिक भावना को किसी सहारे की …

सुनो चाँद, कल ना…. काला टीका लगा कर आना

बारिश में न रात जल्दी आ जाया करती है दुकान से घर लौटते वक़्त अँधेरा हो जाता है सड़क पर चारो तरफ भीड़ … ट्रैफिक का शोर…. तकरीबन पन्द्रह …

~~ प्रेम ~~

समय की सिलवटों मेंमेरे प्यारकी सीवन नहींउधड़ी हैसमय-समय परमिल कर हम नेउसकी सिलाई पक्की की है।फर्क बस इतना है किउसे जतानेया दिखाने कीछत की मुंडेर से चिल्लाने कीअब जरूरत …

शुभ प्रभात

भोर की किरणेंऔर उजाला निशा के चुंगल से जैसे बंद खिड़की केशीशे से होकरमुझ तकआ रही हैंक्या वैसे हीमेरे विचारों कीऊष्मा और गहनतातुम्हारे मन तकपहुँच पाएगीमेरा रोम-रोमजिस तरह जी …

जिन्दगी एक सफर

“रफ्तार का नाम सफर है,धूप से तपती एक डगर है.थक कर बैठें प्लेटफॉर्म के नीचे,सूकून पा लें आँखें मीचें.अब वो प्यारे जगहा किधर हैं?लौटकर आ जा लोहे वाले ‘शेड’ …

मैं मन का करता हूँ

आजकल मैं मन का करता हूँ। चुपचाप दिल में झाकां करता हु नजरे चुराता हुं और रूह को गुलजार की नज़्मों से सेंकता हूँ। हर सुबह तुम्हे भीगे बालों …

नि:स्वार्थ प्रेम

.इस बार इस दुनिया सेमुझ से पहले तुम जाओगेनहीं ये बद्दुआ नहीं हैं मेरीये मेरी दुआ हैंअगले जन्म मे मुझे सेपहले तुम आओगेतभी तो अपनी इच्छाओ कीअपने प्यार कीअपनी …

जीने के लिए ये जरूरी है भ्रम

सुनो मेरा ये भरम रहने दो कि तुम हो मेरे जीने के लिए ये जरूरी है. मुझे नहीं चाहिए तुम्हारा कांधा. तुम्हारा सीना. तुम्हारा रुमाल. या कि तुम्हारे शब्द.. …

खूजराहों की ख्वाबगाह

अंधे जुगनुओं की बाढ़ में डूबकर खूजराहों की ख्वाब गाह मे रोते हुए अधमरे दीपकों को अगर तुम सुन सकते तो तुम्हे पता चलता कि प्रेम की सबसे सफल …

चट्टर बट्टर गल्ल

  अब कहाँ से लाऊँ हर रोज़ नये लफ़्ज़, जो आपको,भायें कवितायें, आपको पसंद आयें हैं कहाँ, लफ़्ज, जो बयाँ कर पायें, दास्ताँ हम सब, और उन सबकी, असल …

★ उत्तम क्षमा ★

अहंकार त्यागता है क्षमा सुसंस्कार पालता है क्षमा शीलवान का शस्त्र है क्षमा अहिंसक का अस्त्र है क्षमा प्रेम का परिधान है क्षमा विश्वास का विधान है क्षमा सृजन …