Author: dr.shobha

हामिद

ईद के मुबारक दिन याद आई प्रेमचंद के हामिद की मुझे, जिसने खरीदा था पिछली ईद में एक चिमटा दादी के लिए । पहुँच गया उसको ढूडंते ईदगाह के …