Author: Divya

जरुरी है..

जरुरी है जिन्दगी मे जख्मो क मिलना, जरुरी है युं चलते चलते गिरना, जिन्द्गी के रस्तो में ये भी जरुरी है.. जिन्दगी को समझने के लिये जरुरी है, इससे …

इबादत खाली लौट आती है मेरी

इबादत क्यों खाली लौट आती है मेरी? क्यों इस दिल की आह उस तक, पहुंच नही पाती मेरी? क्यों वो अन्जान हैं हमसे? क्यों फरियाद नही सुन पाते मेरी? …

अब हम नही कहते हमे मोहब्बत है तुमसे..

अब हम नही कहते हमे मोहब्बत है तुमसे, ये मोहब्बत मुझमे बसी हो जैसे, खबर है तो मुझको तो बस इतना ही, नहि है कुक्ष भी मौजुद बिन उसके, …