इम्तेहान…Raquim Ali

*इम्तेहान*कंपकंपी आने लगती हैदिमाग करता नहीं है काम माथे से पसीना छूटने लगता हैजब आता है इम्तेहान का नाम ; जिंदग़ी में एग्जाम के कई पर्चे होते हैं, जैसे- ‘काम-क्रोध-लोभ-मोह-घमंड-द्वेष-माया कैसे बचा जाय, इनकी जो है काली छाया।’******** ****** ***********:पहले पर्चे ‘काम’ का पहला प्रश्न :मेरे चढ़ते यौवन का आलम होमेरे चेहरे पर चमक-दमक होबहुत ही, अच्छी मेरी सूरत होएक पराई लड़की या औरत हो जिसमें ग़ैरत हो, या जो बेग़ैरत होजो जवान हो, बेहद खूबसूरत हो-‘जो मेरे साथ सफ़र में हो या जो मेरी देख-रेख में होया मेरे सामने यूं ही पड़ जाएजो मेरी परवरिश में होया जो मुझ पर डिपेंड हो या मेरी छत्र-छाया में, यूं ही आ जाएजिसे किसी मजबूरी में कोई मेरे पास लाया होया कहीं खोई हो, और मैंने उसे पाया हो;’अगर,मेरी नज़रें लगातार झुकी रहें, और झुकी ही रहेंमेरी आवाज़ में नरमी रहे, और नरमी बनी रहेमेरी हरकतें संजीदा रहें, और संजीदग़ी बनी रहे।अगर बार-बार हर बार,उसमें मेरी मां, बेटी, बहन की तस्वीर नजर आयेआती ही रहे, जब तक वह वापस न चली जाये। फिर मेरीमाँ या स्त्री मेरे पास आएं, उसके जाने के बादमुझसे उसकी पहचान पूंछें, चले जाने के बादबड़े इत्मीनान और फ़ख्र सेमैं कहूँ ‘मैं उसकी पहचान हरगिज़ नहीं बता सकता हूँसच बात है कि मैं ग़ैर, की शक़्ल नहीं देख सकता हूँ।’ख़ुदा को गवाह बना लूं मैं, औरफिर बोलूं ‘मेरे लिए यह बात बिल्कुल वैसी है, जैसे लक्ष्मण वनवास में, सीताजी का चेहरा नहीं देखे थेमूसा, शोएब की बेटी सफूरा को राह में नहीं देखे थे।’तब मैंख़ुद में, आत्मबल का एक आभास पा सकता हूँतब मैं समझूं कि पहला पर्चा मैं हल कर सकता हूँतब मैं मानूं कि मैं इसमें पास मार्क्स ला सकता हूँ।जिंदग़ी के बाकी पर्चे व कई सवाल,बहुत कठिन हैं, है बात यह पक्कीइल्म-ईमान-आमाल की रोशनी में हीहल हो सकते हैं, है बात यह सच्ची। ….र.अ. bsnl

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

12 Comments

  1. Madhu tiwari 19/05/2017
  2. raquimali 19/05/2017
  3. Shishir "Madhukar" 19/05/2017
  4. डी. के. निवातिया 19/05/2017
  5. raquimali 19/05/2017
  6. raquimali 19/05/2017
  7. bindeshwar prasad sharma 19/05/2017
  8. raquimali 19/05/2017
  9. babucm 19/05/2017
  10. MANOJ KUMAR 20/05/2017
  11. raquimali 20/05/2017

Leave a Reply