लोग कहते है…

लोग कहते है हम कितना हँसते है, कुछ हँसते हँसते रोते है, कुछ रोते रोते हँसते है, हम तो बस यों ही हँसते है । कौन समझेगा उस ज़हर को ऐ दोस्त, जिसे हम पीते है, जब वो ही ना समझे उनकी एकहँसी के लिए ही तो हम जीते थे । कौन रोकेगा उस सैलाब को ऐ दोस्त, जिसमें डुब के भी ना हम तरते है । उनके इंतज़ार में हर पल मरते है । कौन चाहेगा उस टूटे दिल को ऐ दोस्त, जिसके टुकड़े अब भी पड़े मिलते है, उनके प्यार की राहो में । लोग कहते है हम कितना हँसते है, कुछ हँसते हँसते रोते है, कुछ रोते रोते हँसते है, हम तो बस यों ही हँसते है ।#ashwin1827

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

14 Comments

  1. Madhu tiwari Madhu tiwari 11/04/2017
  2. C.M. Sharma babucm 12/04/2017
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 12/04/2017
  4. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 12/04/2017
  5. chandramohan kisku chandramohan kisku 12/04/2017
  6. Kajalsoni 12/04/2017

Leave a Reply