दुल्हन

हूँ दिल में हज़ारों अरमान लिएआँखों में प्यार का सम्मान लिएलबों पे खुशि का पैगाम लिएदिल में उलझनों का आसमान लिएमै हूँ दुल्हन….है एक तरफ नयी दुनिया में कदम रखने का उत्साहनए-नए एहसास दिल में नए-नए जज्बाततो दूसरी ओर है मुझे मायके की भी परवाहकहीं खो न जाये आँगन से हसीं भी मेरे साथदिल चाहता है सोलह श्रींगार करूँअपनी साज-ओ-सज्जा में कोई कमी न रखूंअपनी खूबसूरती पर इतराऊं या,चेहरा छुपाये शर्म से खुद छुप जाऊंआ रही मिलन की घड़ियाँ नजदीकजिनके लिए नैनों ने कई सपने सजायेमान लुंगी क्या उनकी सारी बातें…या रह जाउंगी दूर बस हाथों से चेहरा छुपायेउलझनें बहुत सी है, धडकनों में रफ़्तार हैये है नयी दुनिया में कदम रखने का डरया फिर उनके लिए मेरा प्यार है..आइना देख भी शर्मा रही हूँथोडा सा मन में घबरा रही हूँनयी उमंगें दिल में लिएसाजन मै तुम्हारे घर आ रही हूँ………

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

16 Comments

  1. barkhar7 barkhar7 10/04/2017
    • shrija kumari shrija kumari 12/04/2017
  2. vijaykr811 vijaykr811 10/04/2017
    • shrija kumari shrija kumari 12/04/2017
    • shrija kumari shrija kumari 12/04/2017
  3. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 11/04/2017
    • shrija kumari shrija kumari 12/04/2017
  4. C.M. Sharma babucm 11/04/2017
    • shrija kumari shrija kumari 12/04/2017
  5. डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 11/04/2017
    • shrija kumari shrija kumari 12/04/2017
  6. Kajalsoni 11/04/2017
    • shrija kumari shrija kumari 12/04/2017
  7. mani mani 12/04/2017
    • shrija kumari shrija kumari 12/04/2017

Leave a Reply