कब तक सहेगी और अत्याचार बेटियाँ

सूने से जो आंगन मे रंगोली सजा दे, चाहे वो जिस दिन को भी दिवाली बना दे, हर एक दिन को बेटियां त्योहार बना दे, मामूली घर मे खुशियो का अम्बार लगा दे, जिस घर भी जाएगी ये दिया बन के जाएगी, मुस्कान से अपनी ये सारा घर सजाएगी, हीरे सा चमकदार ये अनमोल सा गहना, है दृश्य चित्रकार का कवियों की कल्पना, नन्ही सी परी आॅख मे क्यूं खटकने लगी, इक फॉस सी गले मे क्यू अटकने लगी, इस सारी सृष्टि का है आधार बेटियां, कब तक सहेगी और अत्याचार बेटियां।। मुझसे ही रिश्ते नाते है, मुझसे ही है संसार, है मेरे बिना व्यर्थ का ये शब्द ‘परिवार ‘मै दुनिया मे हु माॅ तेरी इकलौती सहेली, हु तेरे घर को छोड़ के इस घर मे अकेली, दुनिया है मुझसे फिर भी बेटा है चाहते, हर रोज दुआओं मे बेटा है मॉगते, बेटी ने सीता बनकर दि अग्नि परिक्षा, हुई प्रेम मे मगन वो दिवानी थी मीरा, बेटियां है तो गीत है गजलें है कविता, बेटी के आगे झुकता संसार रचियता, खुद अपने हि घरों का दिया फूकने लगे, आंगन के हरे वृक्ष भी अब सूखने लगे, लगने लगी है आज क्यूं ये भार बेटियां, कब तक सहेगी और अत्याचार बेटियां।। मॉ तेरी विवशता से मै भली-भाँति हूँ परिचित, बिन जुर्म किये मै ही क्यूं हो जाती हुँ दण्डित, पापा से बोल दे मॉ वो मान जायेंगे, बातें मेरी सुनादे वो जान जायेंगे, मेरे बिना मेंहदी ना काजल ये दिखेगा, घरबार भी सुना सा उखडा़ सा लगेगा, हुँ रंग दिवारों का आंगन की धूप हुँ, पूजा की थाल हु मै देवी का रूप हु, देखकर के मेरा चेहरा मुस्कान छायेगी, दादी भी अपना गुस्सा फिर भूल जाएगी, देकर के रौशनी मै खुद की रात करती हुँ, एक उम्र मे दो कुल को आबाद करती हुँ, मॉ बनके देती है ये संस्कार बेटियां, अब और ना सहेगी अत्याचार बेटियां।।।। Poetry by ”poet shashank hirkaney”

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

14 Comments

  1. Shishir "Madhukar" 09/11/2016
    • Hirkaney Shashank 09/11/2016
  2. babucm 09/11/2016
    • Hirkaney Shashank 09/11/2016
    • Hirkaney Shashank 09/11/2016
  3. mani 09/11/2016
    • Shashank Hirkaney 12/11/2016
  4. निवातियाँ डी. के. 09/11/2016
    • Shashank Hirkaney 12/11/2016
  5. Dr Swati Gupta 09/11/2016
    • Shashank Hirkaney 12/11/2016
  6. MANOJ KUMAR 10/11/2016
  7. navneet meshram 29/12/2018

Leave a Reply