दोहे – बी पी शर्मा बिन्दु

 

सब मिल पानी राखिये नहीं तो डगमाडोल
जो हालत है देश की बन जायेगी ढ़ोल।

बन जाइये तुलसी कबीर राखिये नीयति साफ
जग का जैसे हो भला गीरे न इसका ग्राफ।

कलियुग में कल्याण से बच पायेंगे लोग
नहीं तो लेकर डूबेगा माया ममता लोभ।

आधा जिनका ज्ञान है करते हरदम घात
पूरा ज्ञान महाकाल हरदम करता वारदात।

शैतानी दीमाग का अब मत पूछिये अपराध
जिधर चाह वहीं ढौर है जैसे कि जल्लाध।

ऐसे मन को राखिये मन विचलित न होय
प्रेम का पाठ पढ़ाइये दुर्जन के मन धोय।

सत्य सनातन कर्म से बनिये निब्ठावान
ज्ञान योग से धर्म योग योग ही मुक्ति ज्ञान।

खंजर तो एक अस्त्र है वस्त्र है उसका म्यान
योद्धाओं के शान का जो रखता हपदम ध्यान।

दिल का मिलना प्रेम है प्रेम ही पूजा ज्ञान
मन का मिलना धैर्य है दया धर्म सम्मान।

 

Writer             Bindeshwar Prasad Sharma (Bindu)

D/O Birth      10.10.1963

Shivpuri jamuni chack Barh RS Patna (Bihar)

Pin Code       803214
Mobile No.   9661065930

18 Comments

    • Bindeshwar prasad sharma (bindu) 23/09/2016
  1. शीतलेश थुल 23/09/2016
    • Bindeshwar prasad sharma (bindu) 23/09/2016
  2. babucm 23/09/2016
    • Bindeshwar prasad sharma (bindu) 23/09/2016
  3. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 23/09/2016
  4. Bindeshwar prasad sharma (bindu) 23/09/2016
  5. निवातियाँ डी. के. 23/09/2016
    • Bindeshwar prasad sharma (bindu) 23/09/2016
  6. Shishir "Madhukar" 23/09/2016
    • Bindeshwar prasad sharma (bindu) 23/09/2016
  7. Dr Swati Gupta 23/09/2016
    • Bindeshwar prasad sharma (bindu) 23/09/2016
  8. Kajalsoni 23/09/2016
  9. Meena Bhardwaj 23/09/2016
    • Bindeshwar prasad sharma 24/09/2016
  10. Bindeshwar prasad sharma 24/09/2016

Leave a Reply to Dr Swati Gupta Cancel reply