दिल

sheetheart
ये दिल भी बड़ा अजीब है,
बेवजह ही किसी के लिये धडकता है,
पागल है जो तडपता है,
क्यूँ ये उन ख्यालों में खोया रहता है,
जिनका अस्तित्व ही नहीं इस दुनिया में,
दिल भी बड़ा नादान है, ना जाने कब किसपे आ जाये,
और प्यार कर बैठे,
कहते है के जो दिल कहता है वो करो,
हमेशा अपने दिल की सुनो,
मैंने भी तो कुछ ऐसा ही किया था,
वो दिल ही तो था, जिसने इन आँखों को रूलाया,
वो दिल ही तो था, जिसने खुद को दर्द दिलाया,
कितनी शिकायत है मुझे मेरे दिल से ,
सच में ये दिल भी बड़ा अजीब है .
.
.
शीतलेश थुल !!

12 Comments

  1. निवातियाँ डी. के. 08/09/2016
    • शीतलेश थुल 10/09/2016
  2. babucm 08/09/2016
    • शीतलेश थुल 10/09/2016
  3. Shishir "Madhukar" 08/09/2016
    • शीतलेश थुल 10/09/2016
  4. vijay kumar Singh 08/09/2016
    • शीतलेश थुल 10/09/2016
    • शीतलेश थुल 10/09/2016
  5. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 09/09/2016
    • शीतलेश थुल 10/09/2016

Leave a Reply to Shishir "Madhukar" Cancel reply