गणपति बप्पा मोरया

गणपति बप्पा मोरया…
माँ मेरे संग बाज़ार चलो तुम,
मैं भी गणपति को लाऊंगा।।
सुना है वो बच्चों के सखा बनते हैं,
हर बात उनकी बड़े ध्यान से सुनते हैं,
माँ,सुबह शाम मैं उनकी पूजा करूँगा,
उनको सखा मैं अपना बनाऊंगा।
माँ मेरे संग बाज़ार चलो तुम,
मैं भी गणपति को लाऊंगा।।
सुना है उनको मोदक भाते हैं,
मेवा भी बड़े चाव से खाते हैं,
माँ स्वादिष्ट से मोदक बना दो,
मैं मोदक उन्हें खिलाऊँगा।
माँ मेरे संग बाज़ार चलो तुम,
मैं भी गणपति को लाऊंगा।।
सुना है वो विघ्नहर्ता हैं,
दुःखनाशक और सुखकर्ता है,
माँ, मैं भी उनसें दुखियों के दुःख,
दूर करने की आस लगाऊंगा।
माँ मेरे संग बाज़ार चलो तुम,
मैं भी गणपति को लाऊंगा।।
By: Swati Gupta

14 Comments

  1. AKANKSHA JADON 07/09/2016
    • Dr Swati Gupta 10/09/2016
  2. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 08/09/2016
    • Dr Swati Gupta 10/09/2016
  3. C.m sharma(babbu) 08/09/2016
    • Dr Swati Gupta 10/09/2016
  4. शीतलेश थुल 08/09/2016
    • Dr Swati Gupta 10/09/2016
  5. निवातियाँ डी. के. 08/09/2016
    • Dr Swati Gupta 10/09/2016
  6. Shishir "Madhukar" 08/09/2016
    • Dr Swati Gupta 10/09/2016
    • Dr Swati Gupta 10/09/2016

Leave a Reply