अमानत में खयानत – शिशिर मधुकर

किसी की अमानत में खयानत का मुझको शौक नहीँ
मैं तो मजलूमौ का मुसीबतो में बस हाथ थाम लेता हूँ
जिस तरह गुरबत में कूछ फरिश्तो ने मेरा साथ दिया
मैं भी औरों के बुरे वक्त में उनको अपना मान लेता हूँ

शिशिर मधुकर

10 Comments

  1. Dr Swati Gupta 31/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 31/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 31/08/2016
  2. babucm 31/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 31/08/2016
  3. निवातियाँ डी. के. 31/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 31/08/2016
  4. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 31/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 31/08/2016

Leave a Reply