हसीन राज – शिशिर मधुकर

सब कुछ हार कर भी जब कोई मुस्कराता है
अपने मन में कोई हसीन राज़ वो छुपाता है
इस राज़ की गहराई जो शख्स जान जाता है
वही उल्फ़त की असल तासीर समझ पाता है

शिशिर मधुकर

14 Comments

  1. babucm 30/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 30/08/2016
  2. Dr Swati Gupta 30/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 30/08/2016
  3. शीतलेश थुल 30/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 30/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 30/08/2016
  4. RAJEEV GUPTA 30/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 30/08/2016
  5. निवातियाँ डी. के. 30/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 30/08/2016
  6. Meena bhardwaj 30/08/2016
  7. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 30/08/2016

Leave a Reply