इसांन की बनावट

————————————————————————————
चमक दमक झूठी ये दुनिया की सजावट है
जिदंगी के दर्पण मे सब की मुस्‍कुराहट है
फरेब धोखे मिलते है इस अनजाने शहर मे
कुदरत नहीं यह तेा इसांन की बनावट है
अभिषेक शर्मा अभि
————————————————————————————

14021559_925082190936428_5784186561760715257_n

8 Comments

  1. Shishir "Madhukar" 29/08/2016
  2. शीतलेश थुल 29/08/2016
  3. babucm 29/08/2016
  4. shrija kumari 29/08/2016
  5. mani 29/08/2016
  6. निवातियाँ डी. के. 29/08/2016
  7. Kajalsoni 29/08/2016

Leave a Reply