छोड़कर तन्हा – शिशिर मधुकर

कोई दूर रहकर भी मेरे नज़दीक इतना आया
कोई पास रहकर भी ना पहचान मुझको पाया
किसी ने मुश्किलों में आकर हाथ मेरा पकड़ा
किसी ने छोड़कर तन्हा हरदम मुझको सताया

शिशिर मधुकर

10 Comments

  1. C.m sharma(babbu) 17/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 18/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 18/08/2016
  2. mani 18/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 18/08/2016
  3. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 18/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 18/08/2016
  4. sarvajit singh 18/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 19/08/2016

Leave a Reply