तन्हाइयों में याद – शिशिर मधुकर

कोई जब तुमको अपनी तन्हाईयों में याद करता हैं
खुदा से तुमको पाने की वो सदा फरियाद करता हैं
इस सच का जब एहसास रहता हैं बिछडे दिलों को
समय उनकी दुनियाँ को एक दिन आबाद करता हैं.

शिशिर मधुकर

14 Comments

  1. ANAND KUMAR 09/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 09/08/2016
  2. Kajalsoni 09/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 09/08/2016
  3. kiran kapur gulati 09/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 10/08/2016
  4. निवातियाँ डी. के. 09/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 10/08/2016
  5. sarvajit singh 09/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 10/08/2016
  6. mani 09/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 10/08/2016
  7. C.m.sharma(babbu) 09/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 10/08/2016

Leave a Reply