नव महाभारत की तैयारी है…!

नित होता चीरहरण द्रौपदी का
नित कोई सीता हर ली जाती है
जब दुर्योधन रूप शाशक धर ले
समझो नव महाभारत की तैयारी है ।।

यकायक नही भेष भरता कोई रावण
घर से ही उपद्रवों को शै: मिलती है
जँहा राजा नयन नही मन से अंधा हो
स्वतः ही दुश्शासन की हिम्मत बढ़ती है ।।

दिवस एक दो का होता नही खेल ये
प्रारम्भ से संस्कारो की नींव ढलती है
आरोप प्रत्यरोप गढ़ना अति सरल पर
कुसंगति से ही ऐसी घटना घटती है ।।

कभी मूल का विचार किया नही
फिर क्यों हल की आशा करते हो
गूंगे बहरे बन बैठे हो जब पितामह
फिर क्यों सूर्यपुत्र को दोष धरते हो ।।

झूठमूठ हाहाकर मचाना बन गयी आदत
यहां हकीकत कब किसी ने पहचानी है,
चार दिवस होती चर्चा मर्म ह्रदय वेदनापूर्ण
इतने से ही तो सस्ते में प्रसिद्धि मिल जानी है ।।

धृतराष्ट्र तो आँखों का अँधा था
पुत्र मोह की बेड़िया में जकड़ा था
पर यदि समर्थ थी माता गांधारी
क्यों बेबस बनकर थी जीवन गुजारी ।।

यथासमय कर लेती अगर भान,
कर्तव्य जान अपनी जिम्मेदारियों का
कदाचित न होता ऐसा अनर्थ
नहीं होता सत्यानाश शत कौरवो का ।।

इन लघु नजर अंदाजियो से ही तो
पापियो के हौसलें बुलंदीयो को छूते है
जब दुनिया में हद से अधर्म पैर पसारे
धर्म स्थापना को तब कृष्णा अवतरित होते है ।।

कुकृत्य, नारी शोषण , बाल अपराध ,
जैसी आज फैली कई जघन्य बीमारी है
युग युगान्तर से इनके खिलाफ उठती,
आवाजो की मिलती कई कहानी है ।।

पहले भी झेले है ऐसे अनेक युद्ध
हर युग व्याभिचार कि भेंट चढी नारी है
जब दुर्योधन रूप शाशक धर ले
ज्ञातव्य हो नव महाभारत की तैयारी है

नव महाभारत की तैयारी है ।
नव महाभारत की तैयारी है ।
नव महाभारत की तैयारी है ।




डी. के. निवातियाँ

22 Comments

  1. sarvajit singh 11/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
  2. ANAND KUMAR 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
  3. Dr Chhote Lal Singh 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
  4. Er Anand Sagar Pandey 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
  5. babucm 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
  6. M Sarvadnya 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
  7. Shishir "Madhukar" 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
  8. शीतलेश थुल 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
  9. mani 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016
  10. Meena bhardwaj 12/08/2016
    • निवातियाँ डी. के. 12/08/2016

Leave a Reply