तमाशबीन – शिशिर मधुकर

चौबीस घंटों के चैनल हैं पूरे दिन कुछ तो कहना हैं
जनता को बहलाने को नई नई बातें गढ़ते रहना हैं
सही विषय पर काम के लिए पूरी मेहनत कौन करे
जब बैठे रहते हैं सब तमाशबीन टीवी पर आँख धरे
एक इंसा को सबने क्रिकेट का भगवान् बना डाला
सारे दिन बस शोर मचाकर भारत रत्न दिला डाला
अपने कई गलत कामों से अब वो चर्चा में रहता हैं
अपनी स्वार्थ पूर्ती को लेकर मिन्नतें करता रहता हैं
मिस्टर कूल का नया शिगूफा उसके बाद बना डाला
उसके बारे में उससे ज्यादा इन्ही लोगों ने पढ़ डाला
अब हर समय शोर मचाता विराट नाम का बाजा है
बाकी सब लड़के तो है बेबस वो ही सबका राजा है
जब तक बेमतलब की बातों के ये भोंपू ना बंद होंगे
भारत की झोली में मैडल हरदम बस कुछ चंद होंगे

शिशिर मधुकर

15 Comments

  1. mani 05/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 06/08/2016
  2. निवातियाँ डी. के. 05/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 06/08/2016
  3. C.m.sharma(babbu) 05/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 06/08/2016
  4. अरुण कुमार तिवारी 05/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 06/08/2016
  5. sarvajit singh 05/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 06/08/2016
  6. kiran kapur gulati 06/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 06/08/2016
  7. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 06/08/2016
    • Shishir "Madhukar" 06/08/2016

Leave a Reply