जला कर प्यार की ज्योति…

जला कर प्यार की ज्योति
दिल को अकसर वो रूला जाते हैं
कहते है चाहते हैं हमे,जान से भी ज्यादा
पर जब कहो मिलने को तो घाबरा जाते है !

उनके दिल मे बसा है डर कुछ इस कदर
कुछ ना बोल कर भी, सब कुछ बतला जाते है

8 Comments

  1. Shishir "Madhukar" 03/08/2016
    • Prince Seth 03/08/2016
  2. mani 03/08/2016
    • Prince Seth 04/08/2016
  3. निवातियाँ डी. के. 03/08/2016
    • Prince Seth 04/08/2016
  4. C.m.sharma(babbu) 04/08/2016

Leave a Reply