ईश्वर की कृपा

आओ सुनाऊँ तुम्हे एक कहानी,
झूठी नहीं है ये सच्ची कहानी,
एक लड़की थी सीधी और भोली भाली,
अव्वल थी सबमें और प्रखर बुद्धि वाली,
प्यार के सपने सजोए,ससुराल को चली वो,
सोचा था उसने,बनेगी अपने पिया की वो रानी,
अगले ही पल सपने सारे टूटे,
जब सास की नजरों में वो बनी नौकरानी,
सास ने अपना आदेश सुनाया,
इस घर में रहना है, तो काम सारे करने पड़ेंगे,
अच्छा न होगा,गर मेरी इच्छा के विपरीत तूने माँ बनने की ठानी,
पर होनी को कुछ और मंजूर था,
उसके गर्भ में आया नन्हा अंश था,
सोचा था उसने सब खुश हो जाएंगे,
बच्चे की किलकारी से सुख के दिन आएंगे,
पति के चेहरे पर खुशियां थी बहुत,
पर माँ के आगे वो विवश था बहुत,
सास के गुस्से का ठिकाना न रहा,
मेरी इच्छा के विपरीत तू गर्भवती है हुई,
अब तो तुझे सब भुगतना पड़ेगा,
खर्चा बढेगा,इसलिए काम भी तुझको ज्यादा करना पड़ेगा,
बहु विवश थी,चुपचाप सहती गयी,
दो वक्त की रोटी के लिए आंसुओं के घूँट पीती रही,
कुछ माह बाद उसने प्यारी सी गुड़िया को जन्म दिया,
पर उसके सब्र का बाँध तब टूट सा गया,
जब उसकी बेटी को भी मरने के लिए छोड़ दिया था गया,
पति पत्नी ने अंततः घर छोड़ने का फैसला किया,
अपनी बिटिया को लेके दूसरे शहर वो गए,
कठिनाइयों का तो जैसे अंबार था,
पर उस लड़की को भगवन पर था अटूट विश्वास बड़ा,
ईश्वर की कृपा से पति ने अच्छी नौकरी पाई,
दुःख के दिन बहुरे, सुख की शुभ घड़ी थी आई,
लड़की को अपने सब्र का फल था मिला,
बेटी के साथ प्यारा सा बेटा भी मिला,
सुख से फिर वो चारों रहने लगे,
ईश्वर को कोटि कोटि धन्यवाद देने लगे,
By:Dr Swati Gupta

23 Comments

  1. Shishir "Madhukar" 28/07/2016
    • Dr Swati Gupta 28/07/2016
  2. mani 28/07/2016
    • Dr Swati Gupta 28/07/2016
    • Dr Swati Gupta 28/07/2016
  3. Dr Swati Gupta 28/07/2016
  4. C.m.sharma(babbu) 28/07/2016
    • Dr Swati Gupta 30/07/2016
  5. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 28/07/2016
    • सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 28/07/2016
    • Dr Swati Gupta 30/07/2016
      • Dr Swati Gupta 30/07/2016
  6. sarvajit singh 28/07/2016
    • Dr Swati Gupta 30/07/2016
  7. निवातियाँ डी. के. 28/07/2016
    • Dr Swati Gupta 30/07/2016
    • Dr Swati Gupta 30/07/2016
    • Dr Swati Gupta 30/07/2016
  8. RAJEEV GUPTA 29/07/2016
    • Dr Swati Gupta 30/07/2016

Leave a Reply