गर्दिश के साथी – शिशिर मधुकर

तेरे नाम का चर्चा हमने सब अपनों के बीच कर दिया
तेरी छवि का एक एहसास उनके भी मन में भर दिया
छुपाने की कोशिशों से पाक रिश्ते भी दिखते पाप हैं
सितमगर मगर जान लें गर्दिशों के साथी हम आप हैं.

शिशिर मधुकर

18 Comments

  1. Shishir "Madhukar" 15/07/2016
  2. mani 15/07/2016
    • Shishir "Madhukar" 15/07/2016
    • Shishir "Madhukar" 15/07/2016
    • Shishir "Madhukar" 15/07/2016
  3. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 15/07/2016
    • Shishir "Madhukar" 15/07/2016
  4. babucm 15/07/2016
  5. Shishir "Madhukar" 15/07/2016
  6. sarvajit singh 15/07/2016
    • Shishir "Madhukar" 16/07/2016
  7. सोनित 15/07/2016
  8. Shishir "Madhukar" 16/07/2016
  9. Meena bhardwaj 16/07/2016
  10. Shishir "Madhukar" 16/07/2016

Leave a Reply