बेबस जिंदगी -डॉ.सी.एल.सिंह

! बेबस जिंदगी !
———–!————

बेबस जिंदगी को
खुशियों से कोई भर दे
तमाम कोशिशों से उद्धार
अगर कर दे !

स्वप्निल किरन से
सजादे यदि दामन
रोशन जहाँ हो जाये
कुछ पल सही अगर दे
बेबस जिंदगी को …..

टुकडों पर पलता जीवन
जूठन पर शयन करता
बदहाल सितारों को
नव रूप कोई सुघर दे
बेबस जिंदगी को ……

कतरन की तरह कटते
मिटते ये बुलबुलों सा
नादान हसरतों को
कोई भी सुडगर दे
बेबस जिंदगी को …..

निर्बल निरीह हैं नहीँ
ये बाल अंतर्मन
बस स्नेह प्यार से भरा
इनको कोई जिगर दे
बेबस जिन्दगी को
खुशियों से कोई भर दे.
!
!
??डॉ सी एल सिंह??

7 Comments

  1. C.m.sharma(babbu) 07/07/2016
  2. mani 07/07/2016
  3. निवातियाँ डी. के. 07/07/2016
  4. Dr C L Singh 07/07/2016
  5. Shishir "Madhukar" 07/07/2016
  6. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 07/07/2016

Leave a Reply to सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप Cancel reply