सांस

जब तक दिल में जजबात है बाकी,

उनकी दी हुई यादों की सौगात है बाकी.

और टूटेगा नही हमारा उनसे रिशता तब तक,

जब तक ईस जिसम मे आखरी सांस है बाकी.

5 Comments

  1. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 03/07/2016
  2. निवातियाँ डी. के. 03/07/2016
  3. C.m.sharma(babbu) 03/07/2016
  4. Shishir "Madhukar" 03/07/2016
  5. yogesh kumar 04/07/2016

Leave a Reply