तूं मेरी कब्र पे आना, मैं तुझसे बातें करूँगा…………!!

तूं मेरी कब्र पे आना, मैं तुझसे बातें करूँगा,
रात में जागूँगा, दिन में जागूँगा, हर-पल तेरी राह तकूंगा,
तूं मेरी कब्र पे आना, मैं तुझसे बातें करूँगा,

मोमबत्तियां न जलाना कोई, कोई दिया भी न जलाना,
आंसू की एक बूंद भी भूलकर न गिराना,
बस एकबार प्यार से मुस्कुरा देना,
बस इतने से मैं खुश हो जाऊंगा,
तूं मेरी कब्र पे आना, मैं तुझसे बातें करूँगा,

कोई तस्वीर न रखना कहीं मेरी,
कोई देख लगा शक करेगा,
बस एक बार आँखे बंद कर,
मुझे देख लेना, मैं तुम्हें देख लूंगा,
तूं मेरी कब्र पे आना, मैं तुझसे बातें करूँगा,

मरने के बाद मिलेंगे जन्नत में,
बहुत-सी हसीनाएँ होंगी वहां महफ़िल में,
पर नजरें तुम्हें ही ढूंढेंगी, पर नजरें तुम्हें ही ढूंढेंगी,
तुम आना उसी तरह जैसे पहली बार मिली थीं,
अपनी पसंद पर मैं नाज करूँगा,
तूं मेरी कब्र पे आना, मैं तुझसे बातें करूँगा…………!!

14 Comments

  1. सोनित 30/06/2016
    • pandey sauabh 01/07/2016
  2. निवातियाँ डी. के. 30/06/2016
    • pandey sauabh 01/07/2016
  3. C.m.sharma(babbu) 30/06/2016
    • pandey sauabh 01/07/2016
    • pandey sauabh 01/07/2016
  4. Shishir "Madhukar" 01/07/2016
    • pandey sauabh 01/07/2016
  5. Amar Chandratrai 01/07/2016
    • pandey sauabh 01/07/2016
  6. mani 01/07/2016
    • pandey sauabh 01/07/2016

Leave a Reply