खूबसूरत है इश्क ……”अमर चंद्रात्रे पान्डेय”

कोई माने या न माने मगर हकिकत है इश्क ,
जिन्दा रहने के लिये जिन्दगी की जरूरत है इश्क ,
शायद इसिलिये लोग कहते है ,
रब के नजर मे भी बहुत खूबसूरत है इश्क ……

10 Comments

  1. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 30/06/2016
    • Amar chandratrai Pandey 30/06/2016
  2. निवातियाँ डी. के. 30/06/2016
    • Amar chandratrai Pandey 30/06/2016
  3. sarvajit singh 30/06/2016
    • Amar chandratrai Pandey 30/06/2016
  4. babucm 30/06/2016
    • Amar chandratrai Pandey 30/06/2016
    • Amar chandratrai Pandey 30/06/2016

Leave a Reply