”अमर हमारा साथ रहे”………॰अमर चंद्रात्रे पान्डेय…..

चांदनी रात हो और तुम्हारा साथ रहे,
रिमझिम बरसात हो जब हमारी मुलाकात रहे,
खो जाये हम एक दुसरे की आँखों मे कुछ इस तरह,
जो देखे वो बस यही रब से यही दुआ कि जबतक हम जिन्दा रहे ”अमर” हमारा साथ रहे ।

4 Comments

  1. babucm 28/06/2016
  2. निवातियाँ डी. के. 28/06/2016
  3. Amar Chandratrai 29/06/2016

Leave a Reply