ये मोहब्बत – मेरी शायरी……. बस तेरे लिए

ये मोहब्बत

ठंडी हवा के झोकों में तेरी महक आ रही है ………………………
मधुर संगीत की धुन सी तू दिल में समा रही है
चारों दिशाओं में फैला है चर्चा तेरे हुस्न का ……………………
ये तो मेरी मोहब्बत है जो अपना असर दिखा रही है

शायर : सर्वजीत सिंह
[email protected]

14 Comments

  1. Shishir "Madhukar" 21/06/2016
  2. mani 21/06/2016
  3. निवातियाँ डी. के. 21/06/2016
    • sarvajit singh 21/06/2016
    • sarvajit singh 21/06/2016
  4. ANUJ 22/06/2016
  5. babucm 22/06/2016
    • sarvajit singh 23/06/2016
  6. RAJEEV GUPTA 22/06/2016
  7. sarvajit singh 23/06/2016

Leave a Reply