गलतियां

गलतियां बहुत कुछ सीखाती हैं
अधूरे को परिपूर्ण कर जाती हैं

जीवन के हर पल में ये डरती हैं
कुछ कमी रही ये ही बतलाती हैं

अगर इसके साथ खडी हो हिंसा
फिर एक सफल व्यक्ति भी गिरता

किसी राजा को कैसे हीन कर जाती है
कभी रामायण तो कमी महाभारत करवाती हैं

कोई नही जो इन से न मिल पाया
किसी ने सहज कहा तो किसी ने मन में छुपाया
:-अभिषेक शर्मा

14 Comments

  1. RAJEEV GUPTA 15/06/2016
  2. निवातियाँ डी. के. 15/06/2016
  3. Shishir "Madhukar" 15/06/2016
  4. आदित्‍य 15/06/2016
  5. आदित्‍य 15/06/2016
  6. arun kumar tiwari 15/06/2016
  7. babucm 16/06/2016
  8. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 17/06/2016

Leave a Reply to सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप Cancel reply