जलवों का करम – शिशिर मधुकर

Dedicated to all lovers who are away

जब भी तू मेरे साथ होता है एक जहाँ आस पास होता है
हर शै कितनी हसीन लगती है कभी मन ना उदास होता है
तेरे जलवों का करम है जो हम मर कर फ़िर से ज़िंदा हुए
तेरे बिन वीरान हुई राहों में आज कूछ भी ना खास होता है.

शिशिर मधुकर

18 Comments

  1. C.m. sharma (babbu) 20/05/2016
  2. C.m. sharma (babbu) 20/05/2016
  3. Shishir "Madhukar" 20/05/2016
  4. Kajalsoni 20/05/2016
    • Shishir "Madhukar" 20/05/2016
  5. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 20/05/2016
    • Shishir "Madhukar" 20/05/2016
  6. sarvajit singh 20/05/2016
  7. sarvajit singh 20/05/2016
    • Shishir "Madhukar" 20/05/2016
  8. MANOJ KUMAR 20/05/2016
  9. Shishir "Madhukar" 20/05/2016
  10. निवातियाँ डी. के. 21/05/2016
    • Shishir "Madhukar" 21/05/2016
  11. Meena bhardwaj 21/05/2016
    • Shishir "Madhukar" 21/05/2016
  12. bebak lakshmi 21/05/2016
  13. Shishir "Madhukar" 21/05/2016

Leave a Reply