ग्रीष्म कालीन अवकाश

ग्रीष्म कालीन अवकाश

ग्रीष्म कालीन
अवकाश प्रारम्भ
स्कूलों में छुट्टी।।

पढाई बंद
खेलकूद के दिन
बच्चे प्रसन्न ।।

सैर को जाये
पिकनिक मनाये
मौज उड़ाये ।।

दिनों के बाद
नाना-नानी से मिल
मन हर्षाये ।।

कोई ये चाहे
दादा दादी के घर
मिलने जाये ।।

सब ये पूछे
परीक्षा में नंबर
कितने आये ।।

मुन्ना मुन्नी ने
उत्साह से बताया
अव्वल आये ।।

ख़ुशी से पड़े
बूढ़े गालो में गड्ढे
प्रेम लुटाये ।।

माथे को चूमे
ह्रदय से लगाये
लेवे बलाये ।।

कोई जाता है
घूमने देश विदेश
रास न आये ।।

मेरा ह्रदय
चाहे गाँव की सैर
करने जाऊँ।।

स्कूल खुलेंगे
दोस्तों से मिलकर
कथा सुनाऊँ ।।

14 Comments

  1. Shyam tiwari 14/05/2016
    • निवातियाँ डी. के. 16/05/2016
  2. Shishir "Madhukar" 15/05/2016
    • निवातियाँ डी. के. 16/05/2016
  3. C.m. sharma (babu) 15/05/2016
    • निवातियाँ डी. के. 16/05/2016
  4. सुरेन्द्र नाथ सिंह कुशक्षत्रप 15/05/2016
    • निवातियाँ डी. के. 16/05/2016
  5. sarvajit singh 15/05/2016
    • निवातियाँ डी. के. 16/05/2016
  6. mani786inder 15/05/2016
    • निवातियाँ डी. के. 16/05/2016
  7. MANOJ KUMAR 15/05/2016
    • निवातियाँ डी. के. 16/05/2016

Leave a Reply