कलयुगी भक्ति में शक्ति

कलयुगी भक्ति में देखि शक्ति अपार, तभी तो बन बैठे वो महान !कितने मुखड़े छिपे इन चेहरो में, इससे विचलित है स्वंय भगवान !!लूट खसोट कर अमीर बन गए वोजो दिन-रात करते करतूते काली !मंदिर में बैठकर करते पूजा आरतीदर पे बैठे भिखारी को बकते गाली !!कलयुगी भक्ति में देखि शक्ति अपार, तभी तो बन बैठे वो महान !कितने मुखड़े छिपे इन चेहरो में, इससे विचलित है स्वंय भगवान !!निर्धन को वो श्वान सा दुत्कारेधनवानों से करते है प्रेम अपार !जुल्म और अन्याय उनका धर्मबन बैठे है वही धर्म के ठेकेदार !!कलयुगी भक्ति में देखि शक्ति अपार, तभी तो बन बैठे वो महान !कितने मुखड़े छिपे इन चेहरो में, इससे विचलित है स्वंय भगवान !!प्रजातन्त्र के मुखोटे छुपा राजतंत्रनित नित जनमानष को रहा लूट !जात -धर्म में सबको बाँट रहा जोउनको ही अंधे भक्त दे रहे सैल्यूट !!कलयुगी भक्ति में देखि शक्ति अपार, तभी तो बन बैठे वो महान !कितने मुखड़े छिपे इन चेहरो में, इससे विचलित है स्वंय भगवान !!नारी शक्ति के जो देते है नारेकर रहे वही नारी का अपमान !विलायती जीवन स्वयं है जीतेस्वदेशी का वो बाँट रहे है ज्ञान !!कलयुगी भक्ति में देखि शक्ति अपार, तभी तो बन बैठे वो महान !कितने मुखड़े छिपे इन चेहरो में, इससे विचलित है स्वंय भगवान !!जो जितना अधिक ढोंगी पाखंडीजनता में उसका बढ़ता गुणगान !जो सत्य कर्म की राह अपनायेगाउसकी स्वंय परीक्षा लेते भगवान !!कलयुगी भक्ति में देखि शक्ति अपार, तभी तो बन बैठे वो महान !कितने मुखड़े छिपे इन चेहरो में, इससे विचलित है स्वंय भगवान !!कितना भो कोई जाल रचेनिर्णय सबका यही हो जाना है !अपने अच्छे बुरे कर्मो का फलहर इंसान को यहीं भुगत कर जाना है !!कितनी भी दिखा ले शक्ति कलयुग में, वो चाहे बने कितने महान ! इनके चेहरे को उजागर करके, बेनकाब कर जायंगे स्वयं भगवान !! !!!रचनाकार ::— डी के निवातिया

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

10 Comments

  1. Shishir "Madhukar" Shishir "Madhukar" 15/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  2. Madhu tiwari Madhu tiwari 15/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  3. Meena Bhardwaj Meena Bhardwaj 19/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  4. Kajalsoni 22/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 22/02/2017
  5. C.M. Sharma babucm 27/02/2017
    • डी. के. निवातिया डी. के. निवातिया 28/02/2017

Leave a Reply