“मक़सद” डॉ. मोबीन ख़ान

हम किसी भी मज़हब को मानने वाले हों,
मक़सद सिर्फ मोहब्बत फ़ैलाने की होनी चाहिए।।

वैसे भी इस मुल्क में क्या कम आग लगी है,
ख्वाहिस हमारी सिर्फ आग को बुझाने की होनी चाहिए।।

4 Comments

  1. Shishir 25/10/2015
  2. Ashita Parida 25/10/2015
  3. निवातियाँ डी. के. 26/10/2015
    • Dr. Mobeen Khan 27/10/2015

Leave a Reply