“किसान” डॉ. मोबीन ख़ान

कौन कहता है इस जहां में सबको बराबरी का दर्ज़ा मिला है |
देखो किस कदर किसानो का दिल जला है |

ना बारिश की एक बूंद ना ही नहरों से पानी मिला है|

ना ही सरकार से कुछ रियायत ना ही खुदा का सहारा मिला है।

कौन कहता है इस जहां में सबको बराबरी का दर्ज़ा मिला है।

One Response

  1. निवातियाँ डी. के. 14/10/2015

Leave a Reply