“यह कर देंगे वह कर देंगे” डॉ मोबीन ख़ान

यह कर देंगे वह कर देंगे, पहले देश की तरक्की होने दो।

लोग हर रोज़ भूखे मर रहे हैँ थोड़ा उंहेँ रोटी दे दो।।

क्या पढ़ा क्या अनपढ़ सब बेरोजगार है, इससे पहले क़ी लोग मरे उन्हें रोज़ी दे दो।।

यह कर देंगे वह कर देंगे, पहले देश की तरक्की होने दो।।

क्या हिंदू क्या मुस्लिम सिर्फ बातें करते रहते हैं, थोड़ी मुल्क के हालात सही होने दो।।

मज़हब के लिए लड़ना छोड़ो, मुल्क को ग़रीबी से लड़ने दो।।

यह कर देंगे वह कर देंगे, पहले देश की तरक्की होने दो।

6 Comments

  1. Er. Anuj Tiwari"Indwar" 08/10/2015
    • Dr. Mobeen Khan 08/10/2015
    • Dr. Mobeen Khan 08/10/2015
  2. निवातियाँ डी. के. 08/10/2015
    • Dr. Mobeen Khan 08/10/2015

Leave a Reply