जब बेवफा से प्यार होता है

जब बेवफा से प्यार होता है 
जिन्दगी तबाह हो जाती है 
जब बेवफाई का पता चलता हैं 
दिल में आग लग जाती है 
प्यार तो है प्यार मजा देता है 
बेवफा यार सजा देती है 
इश्क नजदीक लाता हैं 
बेवफाई दूर ले जाती है 
बेवफा का प्यार एक दो पल हँसता हैं 
और सारी उम्र रुलाता है 
प्यार इस कदर होता है 
जैसे लहरें साहिल से मिलती है 
एक दो पल मजा आता है 
फिर वो लौट जाती है 
………………………………शशिकांत निशांत शर्मा ‘साहिल’

One Response

  1. चन्द्र भूषण सिंह 12/10/2013

Leave a Reply